Wednesday, December 30, 2009

darr lagta hai tanha sone mein bhi

Fake lyrics for dil to bachcha hai ji.. (Ishqiya):



ऐसी काटी चुभन दिल पे डसती रही
ऐसे बहकी किस्मत, किस्मत हँसती रही

जब साँपों की बस्ती में आये हो राम
तो कैसे कहूँ जान सस्ती नहीं 

वल्लाह ये चंचल
चढ़ने लगी है
आँखों के पीछे
उतरने लगी है

डर लगता है तन्हा सोने में भी
दिल तो बच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी
थोडा कच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी..
_____________________________

झड़ता सा पत्ता मैं गिरती डाल में
अटका हू उसकी लट के बाल में

शर्म कब की कट के हलाल हो गयी
उसकी भरती उमर के नए साल में

वल्लाह ये आदत
गढ़ने लगी है
सारे बदन पर
मढने लगी है

डर लगता है तन्हा सोने में जी 
दिल तो बच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी
थोडा कच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी.. 
___________________________
  
खुद को झेलें या खेलें भी खुद से हमी 
एक लड़की थी, दुनिया में अब है कमी
  
उम्र कटती नहीं नज़रें हटती नहीं
बस जो देखें वो देखें चाहे हो नमी

वल्लाह ये जान अब
खलने लगी है
करतूतें मन में
पलने लगी हैं

डर लगता है तन्हा सोने में भी
दिल तो बच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी
थोडा कच्चा है जी..
दिल तो बच्चा है जी..

2 comments:

  1. http://toplistasranking.blogspot.com/
    me segue follow me

    ReplyDelete
  2. such imagination!!!..Kudos :)...new reader and u got me hooked!

    ReplyDelete